मौसम की जानकारी के लिए अपना शहर दर्ज करें

Invalid City Name

rain icon
Temperature 22°C
Status Clear
City New York
4-Day Forecast
Humidity icon

50%

Humidity

wind icon

15 km/h

Wind Speed

Please Enter OTP For Tractor Price कृपया ट्रैक्टर की कीमत के लिए ओटीपी दर्ज करें
Enquiry icon
Enquiry Form

बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट

ट्रैक्टर होम | ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट| बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट

भारत मे ट्रैक्टर बेलर

Please Enter OTP For Implement Inquiry कार्यान्वयन पूछताछ के लिए कृपया ओटीपी दर्ज करें

बेलर कि कीमत के बारे मे पूछताछ  बेलर कि कीमत के बारे मे पूछताछ

इम्प्लीमेंट टाइप
नाम *
मोबाइल नंबर *
राज्य चुनें *
जिला का चयन करें *
तहसील का चयन करें *

tractor implementsअन्य ट्रैक्टर उपकरण श्रेणी

implements brand लोकप्रिय ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट ब्रांड

implements newsट्रैक्टर इम्प्लीमेंट समाचार

किसान कैसे बचे सब्सिडी धोखे से?

blog किसान कैसे बचे सब्सिडी धोखे से?

भारत सरकार किसानों की हर संभव मदद करना चाहती है इसी लिए वो समय-समय पर कृषि से जुड़े उपकरणों और ज़रूरत...

कमाल की मशीन है गन्ना हार्वेस्टर, एक घंटे में होगी 15 टन गन्ने की कटाई।

blog कमाल की मशीन है गन्ना हार्वेस्टर, एक घंटे में होगी 15 टन गन्ने की कटाई।

आज हम आपको गन्ना हार्वेस्टर के बारे में बताने जा रहे हैं पर पहले हम गन्ने की खेती से जूडी कुछ बाते ज...

Top 5 Happy Seeders Machine: Transforming Farm Work into Delightful Endeavors

blog Top 5 Happy Seeders Machine: Transforming Farm Work into Delightful Endeavors

A happy seeder machine is an efficient agriculture implement, which helps in sowing the seeds withou...

popular tractorलोकप्रिय ट्रैक्टर

tractor newsट्रैक्टर समाचार

CNH Capital empowers underprivileged Kids with ‘MISSION EDUCATION’ initiative

blog CNH Capital empowers underprivileged Kids with ‘MISSION EDUCATION’ initiative

Gurugram, June 12th, 2024: CNH Capital, the financial services division of CNH has launched its CSR...

न्यू हॉलैंड ने लॉन्च किया भारत का पहला 100+ एचपी ट्रेम IV ट्रैक्टर

blog न्यू हॉलैंड ने लॉन्च किया भारत का पहला 100+ एचपी ट्रेम IV ट्रैक्टर

नार्थ अमेरिका जैसे देशों में धूम मचाने के बाद, न्यू हॉलैंड वर्कमास्टर 105 अब भारतीय किसानों के लिए उ...

VST Zetor enters Rajasthan with First Dealership Inauguration

blog VST Zetor enters Rajasthan with First Dealership Inauguration

VST Zetor range of tractors, jointly developed by VST Tillers Tractors Ltd and HTC Investments a.s,...

हाल ही मे बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट के बारे मे पूछे गये प्रश्न :

भारत में बेलर की कीमत रु. 15000* से रु. 15.90 लाख* है।

बेलर एक उपकरण है जिसका उपयोग फसल के अवशेषों जैसे घास, सन के भूसे आदि को गांठों में बदलने के लिए ट्रैक्टर अटैचमेंट के रूप में किया जाता है।

बेलर का उपयोग सामग्री को संपीड़ित करने और एक साथ बांधने के लिए किया जाता है, जो कॉम्पैक्ट आकार बनाता है जो परिवहन और भंडारण में आसान होता है।

हां, बेलर खरीदने के लिए ट्रैक्टरज्ञान विश्वसनीय प्लेटफॉर्म है।

बेलर को हे बेलर के नाम से भी जाना जाता है।

भारत में सबसे अच्छे बेलर स्वराज राउंड बेलर, महिंद्रा स्क्वायर बेलर, शक्तिमान स्क्वायर बेलर हैं।

ट्रैक्टरज्ञान पर, आप भारत में नवीनतम बेलर मॉडल पा सकते हैं।

भारत में सबसे अच्छे बेलर ब्रांड क्लास, दशमेश, फील्डकिंग, जॉन डीरे, महिंद्रा और स्वराज हैं।

सब्सिडी की राशि और प्रक्रिया क्षेत्रवार बदल सकती है, बेलर सब्सिडी के बारे में अधिक जानने के लिए आप tractorgyan.com पर जा सकते हैं।

ट्रैक्टरज्ञान पर, आप अद्यतन बेलर मूल्य सूची पा सकते हैं।

img
Select Language

tractorgyan offeringsट्रैक्टरज्ञान द्वारा

ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट के बारे में

बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट क्या हैं?

ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट खेती की रीसाइक्लिंग प्रक्रिया में उपयोग की जाने वाली मशीन हैं। यह एक पीटीओ-संचालित मशीन है। बेलर को ट्रैक्टर से अटैच करके उपयोग करने पर बेलर मशीन कृषि अवशेषों जैसे: घास, नमक मार्श घास, साइलेज और सन के तिनके को गांठों में बदल देता है जिससे संभालना, परिवहन करना और स्टोर करना आसान होता है। कृषि उपकरण बेलर का उपयोग ज्वार, धान, कपास, गेहूं, बाजरा और अन्य फसलों से फसल अवशेष एकत्र करने के लिए किया जा सकता है। गांठों को बंडल किए गए पौधों के कुछ आंतरिक (जैसे पोषण) मूल्य को सुखाने और संरक्षित करने के लिए कॉन्फ़िगर किया जाता है। जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के उद्देश्यों जैसे घास और पशु चारा के लिए किया जा सकता है। बहुत से तरह के ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट आमतौर पर उपयोग किए जाते हैं। प्रत्येक बेलर मशीन एक अलग प्रकार की गठरी का उत्पादन करते हैं जो की विभिन्न आकारों के आयताकार या सुतली, बेलनाकार, जाल, स्ट्रैपिंग या तार से बंधे होते हैं। बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट एक ऐसी मशीन है जो फसल अवशेषों को एकत्र कर बंडल बना देती है। यह कचरा उत्पादन को 80 प्रतिशत तक कम करता हैं और समय, धन व स्थान बचाने में मदद करता है। इसके साथ ही यह आग के जोखिम को कम करता है। इसके साथ ही बेलर कीमत काफी उचित है|

बेलर किस कार्य के लिए प्रयोग किया जाता है?

बेलर इम्प्लीमेंट को घास की फसलों के अलावा भी अन्य कार्य के लिए उपयोग किया जाता है। पौधों की सामग्रियों को कंप्रेस करना और उनका बंधन उन्हें खेतों से फसल अवशेषों की सफाई के लिए भी बेहतर बनाता है जिसका उपयोग पुआल या पशुओं के बिस्तर के लिए किया जा सकता है। घास की फसलें, सन, कपास और साइलेज विशिष्ट फसलें हैं जिनके लिए नियमित रूप से बेलर का उपयोग किया जाता हैं लेकिन इन्हें कई अन्य किस्मों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

एक ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट फसल के अवशेषों को वापस नष्ट करने और खाद बनाने की प्राकृतिक प्रक्रिया की तुलना में तेजी से अगले बढ़ते चक्र के लिए भूमि के एक भूखंड को साफ कर सकता है। किसान उनका उपयोग चावल के भूसे, मकई के डंठल और भी बहुत कुछ करने के लिए करते हैं। यह खेत के मार्केटिंग क्षेत्र का विस्तार करके फसल से लाभ की व्यवहार्यता को बढ़ाता है। बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट और अन्य कृषि उपकरणों के बिना घास की फसलें उतनी लाभदायक नहीं होती हैं। 

ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट का इतिहास

19वीं शताब्दी से पहले घास को हाथ से काटा जाता था और घास के कांटे का उपयोग करके घास के ढेर में स्टोर किया जाता था। यह घास के ढेर पौधों के अधिकांश तंतुओं को जमीन से ऊपर उठा देते हैं जिससे हवा और पानी बाहर निकल सके ताकि बाद में पशुओं के चारे के लिए पोषण बनाए रखने के लिए घास सूख सके और ठीक हो सके।

1860 के दशक में काटने के मैकेनिकल उपकरण विकसित किए गए थे। इनमें से यांत्रिक मोवर और बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट सहित आधुनिक उपकरण का विकास किया गया। 1872 में चार्ल्स विन्गिंगटन ने एक रीपर जो घास को बंडल और बाइंड करने के लिए एक नॉटर डिवाइस का इस्तेमाल करता हैं का आविष्कार किया था। इसका व्यावसायीकरण 1874 में साइरस मैककॉर्मिक द्वारा किया गया था। 

1936 में इनेस ने एक स्वचालित बेलर मशीन का आविष्कार किया जिसने जॉन डियर ग्रेन बाइंडर से एप्पलबी-टाइप नॉटर्स का उपयोग करके गांठों को सुतली से बांधने का काम किया। 1938 में, एडविन नोल्ट ने एक बेहतर एडिशन के लिए एक पेटेंट दायर किया। पहला राउंड बेलर का आविष्कार19वीं शताब्दी के आखरी में हुआ था और एक को पिल्टर द्वारा पेरिस में दिखाया गया था। यह एक पोर्टेबल मशीन थी जिसे थ्रेशिंग मशीनों के साथ प्रयोग के लिए डिज़ाइन किया गया था। 

बेलर मशीन के क्या कार्य हैं?

जब एक फसल को काटा जाता है और एक पंक्ति में रेक किया जाता है, तो इसे इकट्ठा करने और बेचने में आसानी हो इसके लिए इस पंक्ति को एकत्र करने की आवश्यकता होती है। एक ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट इस कटी हुई और रेक्ड प्लांट सामग्री को संकरा करता है और इसे किसी रस्सी से बांधता है जैसे सुतली, तार या जाल। यह अंतिम उपभोक्ता द्वारा हटाए जाने से पहले लंबे समय तक कंप्रेस्ड प्लांट मटेरियल को जगह पर रखता है। इस श्रम वाले काम को हाथ से करने की बजाय यांत्रिक बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट का प्रयोग करना अधिक कुशल होता है। यह मशीन ऑपरेटर को कम समय में बड़े भूखंडों की कटाई करने की अनुमति देता है। जिल्द की प्रक्रिया से कटी हुई फसल को लंबी दूरी तक ले जाया जा सकता है, ऐसा करना पुरानी घास के ढेर के साथ नामुमकिन था।

बेलर मशीनों का उपयोग

किसान गाठों को आसानी से उठा सकते हैं और बाजारों तक पहुंचा सकते हैं। आगे जानते है यह किस तरह से फायदेमंद हैं। 

  • ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट का उपयोग हम मशरूम उगाने में कर सकते हैं।
  • यह पशु भोजन का एक उत्कृष्ट स्रोत है।
  • यह पैकेजिंग में पाया जाता है।
  • इसका उपयोग बिजली पैदा करने के लिए किया जा सकता है।
  • बेलर मशीन का उपयोग बायोगैस में भी किया जा सकता है।

कृषि बेलर मशीनों की कार्यप्रणाली

  • यह पिक-अप यूनिट्स के साथ फसल अवशेषों को उठाकर अपना कार्य शुरू करता है और फिर इसे बेलन के रूप में रोल करता है।
  • जब गठरी तैयार हो जाती हैं तो चालक ट्रैक्टर को रोक देता है और गठरी को रस्सी से बांध देता है। इस तरह रस्सी से बांधने से गांठों का आकार बना रहता है।
  • गठरी बन गई है इस बात का पता ड्राइवर को ऐसे चलता है की बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट पर लगा एक गठरी संकेतक चालकों को सूचित करता है कि बेलर मशीन के अंदर क्या चल रहा है।
  • ड्राइवर के पास ट्रैक्टर के कंट्रोल बॉक्स में गठरी इजेक्शन स्विच होता है।
  • बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट दरवाजा खोलता है और चालक के इजेक्शन स्विच दबाने पर गठरी बाहर निकल जाती है।
  • कंट्रोल बॉक्स में बेल काउंटर भी है। यह इस बात को बताता है कि अब तक कितनी गांठों का उत्पादन किया जा चुका है। सब कुछ बेलर मशीनों के आसपास घूमता हैं।

बेलर मशीनों के प्रकार

आपको यह चुनना होगा की कौन सी बेलर मशीन आपके कार्य के लिए आवश्यक हैं।

 1. वर्टीकल बेलर

वर्टीकल बेलर, नीचे की ओर बल का उपयोग करके इस प्रकार का ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट सामग्री को संकरा कर देता है। डाउनस्ट्रोक बेलर्स को वर्टिकल बेलर्स के रूप में जाना जाता है जो की कभी-कभी उपयोग किए जाते हैं। इस उपकरण के लिए कार्डबोर्ड, प्लास्टिक, धातु और फोम की रीसाइक्लिंग करना इसका सबसे आम उपयोग हैं।

 2. हॉरिजॉन्टल बेलर

हॉरिजॉन्टल बेलर से हॉरिजॉन्टल बल का उपयोग करके सामग्री को संकरा किया जाता है। हॉरिजॉन्टल बेलर सीधे कक्ष में सामग्री डालते हैं और वर्टीकल बेलर मशीन के टॉप पर स्थित एक हॉपर में सामग्री एकत्र करते हैं।

 3. दो रेम बेलर

दो रेम बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट में सामग्री को सिकोड़ने के लिए एक रैम का उपयोग किया जाता है, जिसे कभी-कभी दो-सिलेंडर बेलर कहा जाता है। दूसरा रेम, कण्ट्रोल मैकेनिज्म के रूप में कार्य करता है। वे वर्टीकल या हॉरिजॉन्टल रूप से तैयार हो सकते हैं। ये उपकरण रबर और अन्य सामग्रियों को उच्च रिबाउंड के साथ कॉम्पैक्ट करने के लिए आदर्श हैं।

भारत में लोकप्रिय बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंटब्रांड

यहां आपको कृषि बेलर उपकरण की लोकप्रिय ब्रांड के बारे में बताया जा रहा हैं जिससे की आपको चयन करना आसान हो जाएगा। 

1. सोनालिका स्क्वेयर बेलर

सोनालिका स्क्वेयर बेलर सोनालिका कंपनी से विवेकी तकनीक के साथ आता है। इसका व्यवसाय कृषि उपकरणों के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। मशीन का कुल वजन 2000 किलो है। इसमें गठरी बांधने के लिए दो नॉटर और 55-60 एचपी रेटिंग की सुविधा है। इस बेलर मशीन से 30 से 140 सेंटीमीटर लंबी और 50 किलो वजन तक की गांठ बना सकते हैं।  इस बेलर की कीमत किसानों के लिए उचित है

2. न्यू हॉलैंड स्मॉल राउंड बेलर

न्यू हॉलैंड स्मॉल राउंड बेलर सस्ता और ईंधन-कुशल है। यह 35 से 45 एचपी की कार्यान्वयन शक्ति के साथ आता हैं यही कारण है कि किसान इस बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट को बहुत पसंद करते हैं। न्यू हॉलैंड स्मॉल राउंड बेलर जैसे ट्रैक्टर उपकरणों का उद्देश्य कृषि कार्यों को कम करना है और प्रत्येक किसान को सरल और अत्याधुनिक तकनीकों का उपयोग करवाकर उच्च पैदावार प्राप्त करने पर ध्यान  देना है।

3. फील्डकिंग स्क्वेयर बेलर 

फील्डकिंग स्क्वेयर बेलर का वजन 1330 किलोग्राम है। इसमें 460 x 360 MM बेल चेंबर,1850 MM पिक-अप चौड़ाई और 2 नॉटर है। इसे प्रभावी ढंग से संचालित करने के लिए 35 से 50 एचपी बिजली की आवश्यकता होती है। आप हाइड्रोलिक पिक-अप एडजस्टमेंट, ड्रॉबार, बेल च्यूट और फीडिंग व्हील मूवमेंट को जोड़ सकते हैं। 

4. महिंद्रा बेलर

भारत में महिंद्रा बेलर कृषि उत्पादन को बढ़ाता है और कठिन व समय लेने वाले कार्यों को आसान बनाता है। इस ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट की शक्ति का 35 एचपी कार्यान्वयन इसे सस्ती और ईंधन-कुशल बनाता है। इस बेलर की कीमत किसानों के लिए बहुत किफायती है

5. शक्तिमान स्क्वेयर बेलर

इसमें एक रिमोट हाइड्रोलिक कनेक्शन और एक ड्रॉबार हिचिंग सिस्टम इन्सटाल्ड है इसलिए इसे कार्य करने के लिए 35 एचपी या इससे अधिक की आवश्यकता होती है। इस मॉडल की गठरी की लंबाई 400 से 1100 मिमी तक होती है जो मैन्युअल रूप से एडजस्ट की जा सकती है।  इसमें गठरी बांधने के लिए दो गाँठें भी होती हैं।

बेलर का उपयोग करने का सबसे अच्छा समय कब होता है?

श्रेष्ठ समय पर ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट का उपयोग करना तने की नमी और क्षेत्र की सापेक्षिक आर्द्रता (अत्यधिक नमी धारण करनें की क्षमता) पर निर्भर करता है। उदाहरण के लिए अल्फाल्फा (एक प्रकार का पौधा जो पशुओं के चारे के काम में आता है) की गांठ लगाते समय पर्याप्त नमी होना चाहिए जिससे की आप अधिकांश पत्तियों को खो न दें और केवल गठरी के तनों और डंडियों को ही समाप्त करें। क्योंकि बहुत नम होने से आपको समस्या भी हो सकती हैं।

कुछ किसान केवल शाम को या रात में ही बेलिंग करते हैं, लेकिन ऐसा करना सभी के लिए जरुरी नहीं है। श्रेष्ठ गठरी का समय आपके जलवायु और कटी हुई और रेकी हुई फसल में नमी के स्तर पर निर्भर करता है। अपनी पंक्ति की नमी के स्तर को मापना और अपने मौसम की स्थिति की निगरानी करने से आपको पता चलेगा की आपको कब गठरी करनी चाहिए।

 बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट के लिए ट्रैक्टरज्ञान क्यों?

ट्रैक्टरज्ञान पर आपको ट्रैक्टर बेलर इम्प्लीमेंट की सम्पूर्ण जानकारी मिलेगी।  आप हमारी वेबसाइट के द्वारा कृषि उपकरणों और ट्रैक्टर्स की जानकारी से अपडेट रह सकते हैं।  इसके साथ ही कृषि उपकरणों और ट्रैक्टर्स पर शानदार ऑफर्स भी यहाँ से पा सकते हैं। ट्रैक्टरज्ञान किसानों की जरूरतों को ध्यान में रखता हैं।  वेबसाइट पर बेलर की कीमत, बेलर की विशेषताएं, बेलर के प्रकार और बेलर की सबसे लोकप्रिय ब्रांड के बारे में बताया गया हैं। जो आपको अपने लिए बेलर खरीदने में मदद करेगी। 

ट्रैक्टरज्ञान ने आपको बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट के बारे में ऐसी जानकारी दी हैं जो खेती के लिए अनिवार्य है।  बेलर से समय, धन व स्थान बचाने में मदद मिलती है क्योंकि बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट के उपयोग से कचरा उत्पादन 80 प्रतिशत तक कम हो जाता हैं।  यदि आप अधिक मार्गदर्शन की तलाश में हैं तो यहां बेलर ट्रैक्टर इम्प्लीमेंट के लिए पूरा गाइड दिया गया है इसके साथ ही आप कृषि उपकरणों के बारे में, ट्रैक्टर की जानकारी, ट्रैक्टर मूल्य, पुराने ट्रैक्टर और पुराने कृषि उपकरण भी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। 

POPULAR SECOND HAND TRACTORSलोकप्रिय पुराने ट्रैक्टर

LOCATE TRACTOR DEALERS/SHOWROOMट्रैक्टर डीलरों / शोरूम का पता लगाएं