Enquiry icon
Enquiry Form

किसानों को मिलेगी कर्ज से मुक्ति, हर दिन होगा 906 किसानों का कर्ज माफ़

किसानों को मिलेगी कर्ज से मुक्ति, हर दिन होगा 906 किसानों का कर्ज माफ़

    किसानों को मिलेगी कर्ज से मुक्ति, हर दिन होगा 906 किसानों का कर्ज माफ़

30 May, 2022

किसानों को खेती के कार्यों के लिए रकम इकठ्ठा करने के लिए बैंक ऋण की आवश्यकता होती है. कुछ किसान इसके लिए आर्थिक रूप से सक्षम होते है कुछ आर्थिक रूप से कमजोर होते है उनके लिए बैंक ऋण को चूका पाना असम्भव होता है. जिससे किसानों पर ऋण का बोझ बढ़ता चला जाता है. किसानों को ऋण से मुक्ति (Farmers Loan Waiver) दिलाने के लिए सरकार नई योजना लाती रहती है.

 

kisan-karj-mafi-yojana-2022

 

ऐसे में अब झारखण्ड सरकार ने किसानों को कृषि ऋण से मुक्त करने के लिए कृषि ऋण माफ़ी योजना शुरू की है. इस योजना के तहत किसानों के द्वारा लिए गए ऋण की भरपाई राज्य सरकार करेगी. झारखण्ड कृषि ऋण माफ़ी का उद्देश्य राज्य की अल्पावधि कृषि ऋण धारक किसानों को ऋण के बिझ से राहत देना है. योजना के तहत फसल ऋण धारक की ऋण पात्रता में सुधर लाना ताकि वह दोबारास से नई फसलों के लिए ऋण ले सकें और कृषि अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान कर सके.

ऋण माफ़ी योजना के तहत कृषि ऋण माफ़ करने हुए 423 दिन पूरे हो चुके है. झारखण्ड में सरकार बनते ही किसानों के लिए सरकार ने ऋण माफ़ करने की घोषणा कर दी थी. राज्य में वित्तीय वर्ष 2020-21 से कृषि ऋण माफ़ी योजना के तहत किसानों के अल्पावधि ऋण माफ़ किए जा रहे है. वर्ष 2020-21 से 31 मार्च 2022 तक कुल 3,83,102 किसानों के 1529.01 करोड़ रुपए माफ़ किए गए है. योजना के तहत प्रत्येक दिन 906 किसानों का 3.34 करोड़ रुपए का ऋण माफ़ किया जा रहा है.

उन्होंने बताया कि सरकार किसान कॉल सेंटर के जरिए भी किसानों के कृषि ऋण माफ़ी योजना संबंधित समस्या का समाधान कर रही है. राज्य कृषि निदेशक निशा उरांव ने बताया कि किसानों को योजना का लाभ देने हेतु हर संभव प्रयास किया जा रहा है.

 

किसान कर्ज माफ़ी ( Farmer Loan Waiver) योजना झारखण्ड के तहत राज्य के सभी छोटे और सीमान्त किसानों के पचास हजार रुपए तक के कर्ज माफ़ किए जा रहे है. इसी के साथ ही गन्ने की फल, फलों के साथ और अन्य तरह की खेती करने वाले किसानों को भी किसान कर्ज माफ़ी योजना का लाभ दिया जाएगा.

 

आवेदन की प्रक्रिया :-

ऋण माफ़ी योजना के लिए राज्य के किसान वाणिज्यिक बैंक, अनुसूचित सहकारी बैंक एवं ग्रामीण बैंक में किसान आवेदन कर सकते हैं. इस योजना के तहत कॉमन सर्विस सेंटर तथा बैंक के द्वारा आवेदन प्राप्त करने की प्रक्रिया है जिससे आवेदकों को उनके अपने निकतम बैंक शाखा से सम्पर्क कर वहां से फॉर्म लेना होगा. इसके बाद फॉर्म में पूछी गई सभी सूचनाओं को सही से भरना होगा. इसके बाद मांगे गए दस्तावेजों को सलग्न करना होगा और इसे बैंक में जमा कराना होगा. सत्यापन के बाद पात्र किसानों के ऋण माफ़ कर दिए जाएंगे.

krishi-rin-mafi

 

किन किसानों का होगा ऋण माफ़ :-

झारखण्ड ऋण माफ़ी योजना के तहत राज्य के ऐसे रैयत-किसान जो अपनी भूमि पर स्वयं कृषि करते हैं और गैर रैयत किसान जो अन्य रैयतों की भूमि पर खेती करते हैं दोनों को ही इस कर्ज मफियोजना का लाभ मिल जाएगा. इसमें किसान व्यक्ति को झारखण्ड राज्य का निवासी होना जरूरी है और उसकी उम्र भी 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए. साथ ही किसान के पास वैध आधार नम्बर होना चाहिए. एक परिवार से एक ही व्यक्ति को ऋण माफ़ी योजना का लाभ मिलेगा. इसमें किसान के पास किसान करित कार्ड एवं राशन कार्ड भी होना चाहिए.

 

किन किसानों को नहीं मिलेगा योजना का लाभ :-

ऋण माफ़ी योजना के तहत छोटे तथा सीमान्त किसानों का ऋण माफ़ किया जा रहा है. सरकार पेंशन और नौकरी करने वाले किसानों का ऋण माफ़ नहीं करेगी. ऋण माफ़ी योजना के तहत राज्यसभा, लोकसभा और विधानसभा के पूर्व एवं वर्तमान सदस्य या राज्य सरकार के पूर्व या वर्तमान मंत्री या नगर निकायों के वर्तमान अध्यक्ष या जिला परिषद के वर्तमान अध्यक्ष, केंद्र या राज्य, विभाग एवं इनकी क्षेत्रीय इकाई, राज्य सरकार के मंत्रालय, PSE एवं सम्बद्ध कार्यालय, सरकार के अधीन स्वायत संस्थाओं के सभी कार्यरत या सेवानिवृत पदाधिकारी एवं कर्मी तथा स्थानीय निकायों के नियमित कर्मी, सभी सेवानिवृत पेंशनधारी जिनकी मासिक पेंशन दस हजार रुपए या इससे अधिक है, गत निर्धारण वर्ष में आयकर देने वाले सभी व्यक्ति, सभी निबंधित डॉक्टर, इंजिनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट इन सभी को योजना का पात्र नहीं माना जाएगा. यानि इन लोगों के ऋण माफ़ नहीं किए जाएंगे.

  

बता दें की झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 15 अगस्त 2021 को झारखण्ड किसान कर्ज माफ़ी योजना की घोषणा की थी. इस योजना के तहत राज्य के सभी सीमान्त और छोटे किसानों का कर्ज माफ़ कर दिया जाएगा. इसके लिए बजट में दो हजार करोड़ रुपए का प्रावधान रखा गया है. बता दें कि झारखण्ड में पांच लाख से भी अधिक ऐसे किसान है जिन्होंने कर्ज लिया हुआ है. इनमे से ज्यादातर किसानों ने कर्ज किसान क्रेडिट कार्ड योजना केजरिए लिया हुआ है. झारखण्ड में कर्ज माफ़ी योजना को अगले तक के लिए भी बढ़ा दिया गया है. यदि किसान इस योजना के जरिए लाभ उठाना चाहते है तो उनके लिए आवेदन प्रक्रिया को फॉलो करना होगा और लाभार्थी की सूचि में अपना नाम देखना होगा. यदि लाभार्थी सूचि में आपका नाम होता है तो आपका पचास हजार रुपए का कर्ज माफ़ हो जायेगा.

 

 

https://images.tractorgyan.com/uploads/26395/6291ecfa15c55_blog-recreat.jpg सरकार ने दी किसानों को बड़ी राहत, खाद और यूरिया खरीद पर सब्सिडी बढ़ाई
किसानों को खेती के लिए उर्वरक और खाद की जरूरत होती है. जिसके लिए किसानों को मोटी रकम चुकानी होती है. भारत में खाद और उर्वरकों के दाम बढ़ गए है. किसानों...
https://images.tractorgyan.com/uploads/26378/628ca07aa2e91_blogggg.jpg किसानों के लिए अच्छी खबर, कृषि यंत्रों पर सब्सिडी के आवेदन होंगे कल से शुरू
देश में खेती-किसानी के कार्यों में आधुनिक कृषि यंत्रों का इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है. लेकिन आज भी बहुत से ऐसे किसान भी है जो पुराने तरीकों से ही खेती ...
https://images.tractorgyan.com/uploads/26391/628f1f64c13cd_qwee.jpg Types, features and characteristics of Subsistence farming in India
Subsistence farming is a type of farming in which crops are cultivated or grown to meet the needs of the farmers. Subsistence farming Is done on a sma...

Top searching blogs about Tractors and Agriculture

Top 10 Tractor brands in india To 10 Agro Based Indutries in India
Rabi Crops and Zaid Crops seasons in India Commercial Farming
DBT agriculture Traditional and Modern Farming
Top 9 mileage tractor in India Top 5 tractor tyres brands
Top 11 agriculture states in India top 13 powerful tractors in india
Tractor Subsidy in India Top 10 tractors under 5 Lakhs
Top 12 agriculture tools in India 40 Hp-50 Hp Tractors in India

review Write Comment About Blog.

Enter your review about the blog through the form below.



Customer Reviews

Record Not Found

Popular Posts

https://images.tractorgyan.com/uploads/111011/6597fa1e160d9-top-10-best-plough-in-india.jpg

Top 10 Best Tractor Plough in India 2024 - Importance and benefits of Ploughing | Tractorgyan

Plough is a crucial farming equipment for farmers. From creating uniform seedbeds to promoting root...

https://images.tractorgyan.com/uploads/28194/63edccd589a5d_Sericulture.jpg

What is Sericulture? - Process, Types, Importance & Benefits of Sericulture | Tractorgyan

Sericulture or silk farming in India is the process of cultivating silkworms & obtaining silk fr...

https://images.tractorgyan.com/uploads/111925/65e02378a5861-second-largest-tractor-company-in-the-world.jpg

187 साल पहले शुरू हुई यह कंपनी आज है विश्‍व की दूसरी सबसे बड़ी ट्रैक्टर कंपनी।

आज की पीढ़ी जिन सभी तकनीकों का लाभ उठा रही है उन सब की नीवं सालो पहले हम जैसे ही किसी एक साधारण व्यक...

Select Language

tractorgyan offeringsTractorGyan Offerings