खेती में ड्रोन का बढ़ने लगा उपयोग, सरकार भी आई मदद को आगे

Home| All Blogs| खेती में ड्रोन का बढ़ने लगा उपयोग, सरकार भी आई मदद को आगे
SHARE THIS

खेती में ड्रोन का बढ़ने लगा उपयोग, सरकार भी आई मदद को आगे

    खेती में ड्रोन का बढ़ने लगा उपयोग, सरकार भी आई मदद को आगे

16 Aug, 2022

खेती में आधुनिक कृषि यंत्रों (Farming Equipment) की महत्ता बढ़ती ही जा रही है। उत्पादन बढ़ाने को लेकर सरकार की ओर से खेती में आधुनिक कृषि यंत्रों के प्रयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। कृषि यंत्रों की श्रृंखला में ड्रोन को भी शामिल कर लिया गया है। ड्रोन माध्यम से कृषि कर किसानों को खेती में और अत्याधुनिक किया जा रहा है। जिससे की कृषि में सरलता और सुगमता लाई जा सके।

 

drone

 

अब किसानों को अन्य कृषि यंत्रों की तरह ड्रोन खरीदने पर भी सरकार की ओर से सब्सिडी का लाभ दिया जाएगा। किसानों को ड्रोन खरीदने पर करीब 5 लाख रुपए तक की सब्सिडी मिलेगी। वहीं कृषि विश्वविद्यालय को ड्रोन की खरीद पर शत प्रतिशत सब्सिडी मिल सकती है। किसान भाई अपनी निकटतम कृषि विभाग से सम्पर्क करके सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं।

 

ड्रोन के उपयोग :-

किसान खेती-किसानी के दौरान फसल बुवाई से लेकर खड़ी फसलों की देखरेख तक तमाम तरह की दिक्कतों का सामना करता है। कई बार तो यह तक भी देखा गया है कि किसान खड़ी फसलों पर खाद और अन्य कीटनाशकों का छिड़काव समय से पूरी फसल पर नहीं कर पाता है। लेकिन अब किसान ड्रोन तकनीक की मदद से खेत में खड़ी फसलों पर यूरिया और अन्य कीटनाशकों का छिड़काव बेहद आसानी से भी कम समय में पूरी फसल पर कर सकते हैं। किसान ड्रोन ऑटो सेंसर के माध्यम से एक निश्चित हाइट पर उड़ाकर खड़ी फसलों पर करीब 10 लीटर तक कीटनाशक का छिड़काव आसानी से कर सकता है। वहीं किसान एक एकड़ भूमि पर खड़ी फसलों पर करीब 10 मिनट में खाद और कीटनाशक और अन्य जरुरी पोषक तत्वों ला छिड़काव कर सकता है।

 

drone 2

 

विश्वविद्यालयों को 100 प्रतिशत सब्सिडी :-

कृषि में ड्रोन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए और इस क्षेत्र के किसानों और अन्य हिधार्कों के लिए ड्रोन तकनीक को सस्ता बनाने के लिए, कृषि मशीनीकरण पर उप-मिशन के तहत मान्यता प्राप्त कृषि ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट या कृषि विज्ञान केंद्र को 100 प्रतिशत तक सब्सिडी प्रदान की जाएगी। किसान उत्पादक संगठनों को किसानों के खेतों पर दवा के छिड़काव के लिए ड्रोन की खरदी के लिए 75 प्रतिशत की दर से सब्सिडी प्रदान की जा रही है।

 

किसानों के हित के लिए सरकार की तरफ से ड्रोन योजना चलाई जा रही है जिसके माध्यम से मात्र सात मिनट से नौ मिनट में एक एकड़ खेत में दवा का छिड़काव किया जा सकता है। इससे किसानों के वक्त और श्रम दोनों की बचत होगी। सरकार की तरफ से किसान ड्रोन की खरीद पर 75 प्रतिशत तक की सब्सिडी देने की घोषणा की गई है।

 

ड्रोन खरीदने पर मिलने वाली सब्सिडी :-

ड्रोन प्रदर्शन करें वाली कार्यान्वयन एजेंसियों को 6,000 रुपए प्रति हेक्टेयर आकस्मिक व्यय उपलब्ध कराया जाएगा जो ड्रोन खरीदने की इच्छुक नहीं है लेकिन कस्टम हायरिंग सेंटर्स, हाई-टेक हब्स, ड्रोन निर्माण करने वाले और स्टार्ट अप्स से किराए पर लेना चाहते हैं। उन कार्यान्वयन एजेंसियों के लिए आकस्मिक व्यय 3,000 रुपए प्रति हेक्टेयर तक सीमित रहेगा, जो ड्रोन के प्रदर्शन के लिए ड्रोन खरीदना चाहते हैं, वित्तीय सहायता और अनुदान 31 मार्च 2023 तक उपलब्ध रहेगा।

 

drone 3

 

सरकार की तरह से लगभग 10 लाख रुपए लागत वाले ड्रोन को कृषि विज्ञान केन्द्रों पर निःशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा किसान, कृषक उत्पादक समूह, महिलाएं या किसान महिला समूह स्टार्टअप के लिए भी इसे अपना सकेंगे। अन्य व्यक्ति भी अगर इसे रोजगार के रूप में अपनाना चाहे तो उसे सरकार सब्सिडी प्रदान करेगी।

 

कहाँ से ले सकेंगे ड्रोन :-

किसान, कस्टम हायरिंग सेंटर (Custom Hiring centre) से भी ड्रोन किराए पर ले सकेंगे। क्योकि अब ड्रोन को भी कृषि यंत्रो की सूची में शामिल कर लिया गया है। बता दे कि कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना  किसान सहकारी समितियों, एफपीओ और ग्रामीण उद्यमियों द्वारा की जाती है। वहीं एसएमएस, आरकेवीवाई या अन्य योजनओं से वित्तीय सहायता के साथ किसान सहकारी समितियों, एफपीओ और ग्रामीण उद्यमियों द्वारा स्थापित किए जाने वाले नए सीएचसी (CHC) या हाई-टेक हब्स (High-tech Hubs) की परियोजनाओं में ड्रोन को भी अन्य कृषि मशीनों के साथ एक मशीन के रूप में शामिल किया जा सकता है। इसलिए जो छोटे और सीमान्त किसान इसे खरीदने में सक्षम नहीं है वे किराए पर ड्रोन लेकर अपना खेती का काम कर सकेंगे।

 

drone 4

कृषि मंत्रालय (Agriculture Ministry) की तरफ से हाल ही में की घोषणा में कहा गया कि किसान ड्रोन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सरकार एससी-एसटी, छोटे और सीमान्त, महिलाओं और पूर्वोत्तर राज्यों के किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए 50 प्रतिशत या अधिकतम 5 लाख रुपए की सब्सिडी प्रदान कर रही हैं। इसके साथ ही अन्य किसानों के लिए 40 प्रतिशत उआ अधिकतम 4 लाख रुपए तक की वित्तीय सहायता दी जाएगी। सरकार किसानों की सुविधा, लागत कम करने और आय बढ़ाने के लिए ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है।

ट्रैक्टर ज्ञान पर आप सभी प्रकार के ट्रैक्टर्स की जनकारी सीधे प्राप्त कर सकते है। महिंद्रा ट्रैक्टर, स्वराज ट्रैक्टर, जॉन डियर ट्रैक्टर आदि कईं और ट्रैक्टर्स के ब्रांड्स के बारे में उनकी रेट्स, फीचर्स, आधुनिक तकनीकी के बारे में भी जानकारी हमारी वेबसाइट पर मिलती है। साथ ही साथ कृषि से जुड़ी और नई जानकारी मिलती है। साथ हर राज्य द्वारा या केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं की विस्तृत जानकारी भी हमारी वेबसाइट पर आसानी से मिल जाती है।

ट्रैक्टर्स के बारे में, उनके फीचर्स, क्षमता आदि का स्पष्ट विवरण और सही रेट की जानकारी पहुंचाना ट्रैक्टर ज्ञान का मुख्य लक्ष्य होता है।

ट्रैक्टर ज्ञान वेबसाइट पर पुराने, नए ट्रैक्टर्स के बिक्री की सीधी जानकारी मिलती है। साथ हमसे सीधे सम्पर्क कर किसान भाई आसानी से ट्रैक्टर के क्रय-विक्रय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

 

Read More

 What is Apiculture? Its importance, Advantages and disadvantages       

What is Apiculture? Its importance, Advantages and disadvantages             

Read More  

 Varieties and Benefits of Apricot farming in India       

Varieties and Benefits of Apricot farming in India                                           

Read More  

 Advantages and disadvantages of Shifting Cultivation in India | Tractorgyan       

Advantages and disadvantages of Shifting Cultivation in India | Tractorgyan

Read More

Read More

Top searching blogs about Tractors and Agriculture

Top 10 Tractor brands in india To 10 Agro Based Indutries in India
Rabi Crops and Zaid Crops seasons in India Commercial Farming
DBT agriculture Traditional and Modern Farming
Top 9 mileage tractor in India Top 5 tractor tyres brands
Top 11 agriculture states in India top 13 powerful tractors in india
Tractor Subsidy in India Top 10 tractors under 5 Lakhs
Top 12 agriculture tools in India 40 Hp-50 Hp Tractors in India

Write Comment About Blog.

Enter your review about the blog through the form below.



Customer Reviews

Record Not Found

Popular Posts

https://images.tractorgyan.com/uploads/28042/63de11a68785b_Top-7-Coffee-Producing-States-in-India.jpg

Top 7 Coffee Producing States in India | TractorGyan

India ranks among the top 10 largest coffee-producing countries in the world. Indian coffee is consi...

https://images.tractorgyan.com/uploads/28071/63e21cd393502_fada-sales-blog-january-2023.jpg

जनवरी महीने में ट्रैक्टर की खुदरा बिक्री में 7.96% की वृद्धि ⁩- फाडा रिसर्च

ट्रैक्टर उत्साहियों का सब्र अब खत्म हो गया हैं। FADA (फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया...

https://images.tractorgyan.com/uploads/28064/63e0b9f6127fc_fada-sales-blog-january-2023.jpg

Retail Tractor sales increase by 7.96% YoY in January 2023, shows FADA Research

The time for which every tractor enthusiast is eager has come, FADA  has released the monthly s...

tractorgyan offeringsTractorGyan Offerings

POPULAR SECOND HAND TRACTORSPopular Second hand Tractors

LOCATE TRACTOR DEALERS/SHOWROOMLocate Tractor Dealers/Showroom