Enquiry icon
Enquiry Form

टैक्सी और कार की तर्ज पर कृषि उपकरण भी मिलेंगे किराए पर, किसानों को पहुंचेगा लाभ

टैक्सी और कार की तर्ज पर कृषि उपकरण भी मिलेंगे किराए पर, किसानों को पहुंचेगा लाभ

    टैक्सी और कार की तर्ज पर कृषि उपकरण भी मिलेंगे किराए पर, किसानों को पहुंचेगा लाभ

28 Jul, 2022

खेती में आधुनिक कृषि मशीनों (Farming Equipment) के उपयोग से किसानों का मुनाफा बढ़ा है। किसानों के लिए आधुनिक कृषि मशीनों के लिए सरकार पूरा प्रयास कर रही है। इसके लिए राज्य सरकार कई सब्सिडी योजना भी चला रही है। लेकिन फिर भी सरकार के इतने प्रयासों के बाद भी ये आधुनिक कृषि मशीनी किसानों की पहुँच से दूर है। क्योंकि राज्य में बड़े पैमाने पर किसान लघु सीमान्त है जो आर्थिक रूप से उतने सक्षम नहीं है कि इन आधुनिक और महंगे कृषि यंत्रों को खरीद सकें। इस स्थिति को देखते हुए सरकार ने किसानों की सहायता के लिए नया कदम उठाया है।

kisan rath1

मोबाइल एप की शुरुआत

बता दें बिहार की सरकार ने किसानों तक कृषि मशीनें (Farming Equipment) पहुंचाने के लिए एक मोबाइल एप लॉन्च करने का निर्णय लिया है। इस मोबाइल एप का इस्तेमाल किसान आधुनिक मशीनों को किराए पर लेने के लिए कर सकेंगे। इस मोबाइल एप की मदद से किसान खेती-बाड़ी करने के लिए कृषि यंत्रों को घर बैठे ऑनलाइन बुकिंग कर किराए पर मंगवा सकेंगे और खेती-बाड़ी में खेती की जुताई से लेकर बुवाई तक होने वाले मुश्किल काम कम समय और कम लागत में कर सकेंगे। साथ ही खेती में अपना मुनाफा भी बढ़ा सकेंगे।

छोटे और सीमान्त किसानों को मिलेगी राहत

राज्य के छोटे और सीमान्त किसानों की सुविधा के लिए बिहार का सहकारिता विभाग यह पहल करने जा रहा है। शुरुआत में इस सिस्टम को 3000 पैक्स में लागू किया जाएगा। अगले हफ्ते इस सेवा के शुरू होने की उम्मीद है। बिहार सहकारिता विभाग की सचिव वन्दना प्रेयशी ने इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि अगले सप्ताह 2997 पैक्स में इस सेवा की शुरुआत होगी। एप के जरिए किसानों को कृषि यंत्र जैसे ट्रैक्टर और हार्वेस्टर को किराए पर दिया जाएगा। 3000 पैक्स में शुरूआती प्रदर्शन देखे के बाद दूसरे चरण में बाकी बचे पैक्स में इसकी शुरुआत होगी।

कॉल सेंटर और हेल्पलाइन नम्बर से भी ले सकेंगे सेवा

सहकारिता विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इस सेवा का लाभ लेने में मदद करने के लिए एक कॉल सेंटर होगा। कॉल सेंटर में सम्पर्क करने के लिए एक हेल्पलाइन नम्बर जारी किया जाएगा। यहाँ पर किसान यंत्रों को किराए पर लेने से सम्बंधित जानकारी और मशीनों की उपलब्धता के बारे में जानने के साथ ही शिकायत भी दर्ज करा सकेंगे। हेल्पलाइन नम्बर उन किसानों के लिए होगा जो स्मार्ट फोन का इस्तेमाल नहीं करते। एक अधिकारी ने बताया कि जिन किसानों के पास स्मार्ट फ़ोन का इस्तेमाल नहीं करते है। एक अधिकारी ने बताया कि जिन किसानों के पास स्मार्ट फ़ोन नहीं और या उन्हें एप डाउनलोड करने में कोई कठिनाई हो रही है वे इस सेवा का लाभ उठाने के लिए आसानी से हेल्पलाइन नम्बर का उपयोग कर सकते हैं।

kisan rath2

साथ ही अधिकारियों ने बताया कि चुनिन्दा पैक्सों में 15 जुलाई से मोबाइल एप के जरिए कृषि उपकरणों की बुकिंग शुरू हो जाएगी। बुकिंग करने के बाद किसान को एक टाइम स्लॉट दिया जाएगा जिसमें वे किराए पर कृषि उपकरण का इस्तेमाल कर सकेंगे। कृषि यंत्र बैंक (Farming Equipment Bank) में मौजूद यंत्रों का किराया तय करने के लिए प्रमंडल स्टार पर समिति बनी हुई है। इसमें सम्बन्धित पैक्स के अध्यक्ष, संयुक्त निबंधक, सहकारिता पदाधिकारी, क्षेत्र के दो किसान और अन्य सदस्य होंगे। यह समिति उपकरणों का किराया तय करेगी। जो किराया निर्धारित होगा वही किसानों से लिया जाएगा। पैक्स उससे ज्यादा किराया नहीं वसूल सकेगा।

ट्रैक्टर, ट्रक, हार्वेस्ट जैसे उपकरण मिलेंगे

दक्षिण और उत्तरी बिहार के कृषि क्षेत्रों में हाल के वर्षों में ट्रैक्टर और हार्वेस्ट जैसे कृषि उपकरणों की उच्च मांग देखी गई है। कई किसानों के पास कृषि के जरूरी यंत्र है लेकिन जिन किसानों के पास नहीं है उन्हें स्थानीय स्तर पर ही अधिक किराया देकर अपना काम कराना पड़ता है। एक अधिकारी ने बताया कि इस नई सेवा के जरिए किसानों को प्रतिस्पर्धी कीमत पर मशीनें मिल सकेंगी।

बिहार सहकारिता विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पैक्स ग्राम पंचायत स्टार पर काम करने वाली सहकारी समितियां है जो किसानों को लों मुहैया कराती है। इसके अलावा यह रवी और खरीफ मौसम में कटाई के बाद फसलों की खरदी में भी करती है। इसके अलावा यह रबी और खरीफ मौसम में कटाई के बाद फसलों की खरीद में भी मदद करती है। बिहार में पैक्स के जरिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) पर उपज की सरकारी खरीद होती है। अधिकारियों का कहना है कि इस मोबाइल एप सेवा का लाभ लेने में मदद करने के लिए एक कॉल सेंटर होगा। कॉल सेंटर में सम्पर्क करने के लिए एक हेल्पलाइन नम्बर जारी किया जाएगा। यहां पर किसान कृषि उपकरणों को किराए पर लेने सम्बन्धी सभी जानकारी और मशीनों की उपलब्धता के बारे में जानने के साथ ही शिकायत भी दर्ज करा सकेंगे।

किसान रथ एप से मिलेगी मदद 

kisan rath3

केंद्र सरकार ने हाल ही में किसान रथ एप (Kisaan Rath App) लॉन्च किया है। इस एप पर भी किसान अपनी जरूरत के मुताबिक़ ट्रैक्टर, ट्रक और अन्य मशीनरी किराए पर ले सकते हैं। इस एप पर किसान ट्रांसपोर्टर से सम्पर्क करके ट्रक किराए पर ले सकते हैं। साथ ही साथ राजस्थान सरकार ने भी इस योजना को पाने राज्य में लागू कर दिया है। जिससे अब किसी भी किसान को कृषि उपकरणों के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। कम कीमत पर और ज्यादा परेशान हुए बिना उपकरणों को काम में ले सकते हैं।

और अधिक जानकरी के लिए आप हमारी वेबसाइट ट्रैक्टर ज्ञान (Tractor Gyan) पर प्राप्त कर सकते हैं। आप हमारी वेबसाइट पर ट्रेक्टर और कृषि उपकरणों से सम्बन्धित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही इनके डीलर्स के बारे में भी आपको सूचि मिल जाएगी।

ट्रैक्टर ज्ञान पर आप सभी प्रकार के ट्रैक्टर्स की जनकारी सीधे प्राप्त कर सकते है। मैसी फर्ग्यूसन ट्रैक्टर, जॉन डियर ट्रैक्टरआयशर ट्रैक्टर आदि कईं और ट्रैक्टर्स के ब्रांड्स के बारे में उनकी रेट्स, फीचर्स, आधुनिक तकनीकी के बारे में भी जानकारी हमारी वेबसाइट पर मिलती है। साथ ही साथ कृषि से जुड़ी और नई जानकारी मिलती है। साथ हर राज्य द्वारा या केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं की विस्तृत जानकारी भी हमारी वेबसाइट पर आसानी से मिल जाती है।

ट्रैक्टर्स के बारे में, उनके फीचर्स, क्षमता आदि का स्पष्ट विवरण और सही रेट की जानकारी पहुंचाना ट्रैक्टर ज्ञान का मुख्य लक्ष्य होता है।

ट्रैक्टर ज्ञान वेबसाइट पर पुराने, नए ट्रैक्टर्स के बिक्री की सीधी जानकारी मिलती है। साथ हमसे सीधे सम्पर्क कर किसान भाई आसानी से ट्रैक्टर के क्रय-विक्रय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

https://images.tractorgyan.com/uploads/26483/62aae31e62b34_blog1606.png न्यूनतम समर्थन मूल्य पर शुरू हुई गेंहू की खरीद, किसानों के खाते तक पहुंचे 2741 करोड़ रुपए
मौसम के अनुसार रबी की फसल (Winter Crop) की खरीद शुरू हो चुकी है. हर राज्य में किसान अपनी रबी की फसल को बेचने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रहे हैं. ऐसे में ह...
https://images.tractorgyan.com/uploads/26637/62ce5d4619abd_blog-(13).jpg किसानों के लिए आई नई योजना, मिलेगा 3 लाख तक का लाभ
केंद्र सरकार किसानों के लिए हर बार नई-नई योजनाएं लेकर आती है. जिससे किसानों को काफी फायदा पहुंचता है. वहीं पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samm...
https://images.tractorgyan.com/uploads/26715/62de3fb3e7e69_blog-(16).jpg किसानों को मिलेंगे मुफ्त में कृषि यंत्र, ट्रैक्टर से लेकर कईं यंत्रों की दी सौगात
ये योजना बिहार सरकार द्वारा शुरू की गई है जिसमें आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को कृषि यंत्र दिए जाएंगे। जिसमें ट्रैक्टर (Tractor) और अन्य कई संयंत्र को...

Top searching blogs about Tractors and Agriculture

Top 10 Tractor brands in india To 10 Agro Based Indutries in India
Rabi Crops and Zaid Crops seasons in India Commercial Farming
DBT agriculture Traditional and Modern Farming
Top 9 mileage tractor in India Top 5 tractor tyres brands
Top 11 agriculture states in India top 13 powerful tractors in india
Tractor Subsidy in India Top 10 tractors under 5 Lakhs
Top 12 agriculture tools in India 40 Hp-50 Hp Tractors in India

review Write Comment About Blog.

Enter your review about the blog through the form below.



Customer Reviews

Record Not Found

Popular Posts

https://images.tractorgyan.com/uploads/1601959540-which-tractor-is-the-best.jpeg

जाने कौन सा ट्रैक्टर हैं सबसे बेहतर-Mahindra 275 di XP Plus and Massey Ferguson 1035 DI

महिन्द्रा 275 डीआई एक्सपी प्लस (Mahindra 275 DI XP Plus) मैसी फर्ग्यूसन 1035 डीआई  (M...

https://images.tractorgyan.com/uploads/105994/64ce0fe996a59-hop-shoots-cultivation-in-india.jpg

Hop Shoots Cultivation in India – Uses & Benefits

Are you interested in knowing about the most expensive plant - Hop shoots cultivation in India? Then...

https://images.tractorgyan.com/uploads/26408/6295ec3b49363_blog-(5).jpg

Best Power weeder and their uses in India | Tractorgyan

About Power weeder Power Weeder is a piece of agricultural equipment or the tool which is po...

Select Language

tractorgyan offeringsTractorGyan Offerings